Connect with us

How to Apply

{Patta Chitta Online} & FMB Map Apply Online, Check The Status & Validity- Tamil Nadu Land Records

Published

on

Patta Chitta

In daily life, an ordinary man earns a sum that is sufficient to survive among the public is like the ‘survival of the fittest’. In case if they had managed to earn an extra sum and have planned to invest that amount in the land it is mandatory that they will have to have the patta on the property on which they are going to purchase.

Patta What Is It? Why It Is Called As?

The government declares the actual name of the owner of the particular plot of land. The land that is purchased for any purpose must have a ‘Patta’ to construct any buildings, bungalows, anything. When a group of owners purchases the same piece of land, then all the owner’s names are mentioned in the patta that is issued for the main person.

What are the necessary documents?

1.    Original and scanned copy of the application for verification.

2.    Parent document copy

3.    EC was taken from sub-registers office until the deed date of registration.

4.    Old patta copy.

Chitta What Is It? Why It Is Called As

This registered patta extract is called as Chitta as it gives the entire ownership details about that specific land. The important details available are

•     Village, Taluk, District, Land Owner’s  name with Father’s name,

•    Patta number,

•    Survey Number with sub-division details.

This is managed and maintained by Village administrative officers and Taluka office.

How To Procure Patta Chitta Online & Status

Tamil Nadu government has Patta Chitta process available online too. This facility is made accessible from the rime the patta and Chitta merger happened.

There are very few steps that need to be followed to process it online. 

Step 1: log on to the website that is for Patta Chitta http://eservices.tn.gov.in/eservicesnew/index.html The languages available are Tamil and English.

Step 2: Select and view Patta, FMB, and view Chitta, TSLR Extract and choose the location where the site is located along with the district.

Step 3: All the details (Details like Taluk, Village, Ward, and Block would be required along with Survey Number and Sub Division Number)regarding the property are entered.

Step 4: Town Survey Land Register will review your application and issue the certificate for these applications online from VAO office or taluka office will be given.

You can also check on to your application status in particular site also after issuing your patta validity can also be checked for through online.

Transfer Of Patta Chitta Online

According to the Government Order 210 dt. 8th July 2011, The transfer can be done when the owner of the land is different that is when the land is sold the rights can be transferred from one person to the other.

The following documents are very much necessary along with the transfer application that is acquired from the taluk office. 

1.    Signed patta transfer application

2.    Sale deed copy along with the original are to be submitted for checking process

3.    Property tax receipt as procession receipt

4.    Encumbrance certificate

The other possibilities are as follows

•    If an owner holding the Patta with his name, suddenly or unfortunately dies without a will, then the legal heirs of the person are entitled to have Patta for the property in their names.

•    If the person had left behind a Will, Patta can be transferred to the immediate heirs of the sick person’s beneficiary with others consent and acceptance.

•    When there is a purchase/sale of a property, then it is possible to get the Patta directly with the purchaser or a transferee.

What Is An FMB Sketch?

Field Measuring Book is a data book that contains all the information regarding the exact location of the land in the map. It is the government’s responsibility and the FMB sketches are an important requirement for a property transaction.

It is comprised of

    G-Line♣

    F-Line♣

    Subdivision Lines♣

    Ladder♣

    Extension Lines♣

   ♣ Neighbouring Field survey numbers

    Neighboring survey numbers♣

 

How To Get An FMB Sketch Of A Property?

First and foremost thing to be done is to submit a written request to fetch FMB is to approach a tahsildar’s office. There is no online source to get the sketch approved online. Specific finding on sketching is also unavailable for reference purpose as it is outdated. But the officer can be intimated.

Conclusion

Thus, to fetch a patta online the procedures are to be followed as such to get the work done rapidly without any sort of delay due to documents.

नमस्कार दोस्तों, मैं Pandit Shivam, HREX का Author हूँ. मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे I

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Govt Policies

MP Rojgar Panjiyan Yojna Online Registration 🇮🇳 ? Check Here For Details

Published

on

मध्य प्रदेश रोजगार पंजीयन ऑनलाइन कैसे करें ?

जैसा कि हम सब जानते है कि भारत एक युवा देश है। हमारे देश की लगभग 60 प्रतिशत आबादी युवा है। भारत के पास विश्व में अग्रणी राष्ट्र बनने के पूरी संभावना है पर इसके लिए आवश्यक है कि देश का कोई भी युवा बेरोजगार ना रहे। देश एवं राज्य की सरकारें रोजगार से  जुड़ी कई सारी योजनाएं ला रही है। इन्हीं में से एक मध्य प्रदेश सरकार की योजना रोजगार पंजीयन ऑनलाइन योजना है।

आज हम आपको इस पोस्ट में mp rojgar yojna के बारे में सारी जानकारी विस्तार से  बताने जा रहे हैं। हम आपको बताएंगे कि मप्र रोजगार योजना में rojgar panjiyan online कैसे करें।

आइए पहले बताते हैं कि क्या है मध्यप्रदेश रोजगार पंजीयन योजना?

What is mp rojgar  panjiyan ?

मध्य प्रदेश रोजगार पंजीयन योजना राज्य सरकार द्वारा लागू किया हुआ एक योजना है जिस योजना से बेरोजगारी को खत्म करने में मदद मिलने की संभावना है। पहले युवाओं को रोजगार पंजीयन करवाने के लिए जिला मुख्यालय स्थित रोजगार पंजीयन कार्यालय जाना होता था जिसमें काफी समय एवं पैसे भी लगता था। युवाओं को पंजीयन करवाने हेतु ऑफिस के चक्कर लगाने पड़ते थे। इन्हीं सब परेशानी को देखते हुए राज्य सरकार ने रोजगार पंजीयन योजना को लागू किया। योजना का लाभ रोजगार प्राप्त करने वाले के साथ साथ रोजगार प्रदान करने वाले संस्था भी प्राप्त कर सकती है। रोजगार पंजीयन योजना का लाभ लेने के लिए युवाओं को Rojgar panjiyan online करना होगा। Mp rojgar panjiyan online registration करवाने के लिए किसी भी ऑफिस का चक्कर लगाना नहीं पड़ेगा। कोई भी व्यक्ति घर बैठे ही रोजगार पंजीयन योजना में Rojgar panjiyan online registration कर सकता है।

MP rojgar panjiyan yojna is the scheme of mp government. Mp government launched this scheme to fight against unemployment. Under this Rojgar panjiyan yojna any unemployed youth can register themselves & get benefit. It’s a best option for youth to find a job at one place. Once you register online on rojgar panjiyan portal and select your qualifications, skill and work experience. You’ll start getting notifications and Rojgar Samachar about suitable job according to your profile. You can choose a job and apply directly from there , you won’t have to go anywhere else.

Here, we are going to inform you how to register online on rojgar panjiyan portal

चलिए अब हम आपको रोजगार पंजीयन में रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया बताते हैं

रोजगार पंजीयन में रजिस्ट्रेशन करने के प्रक्रिया इस प्रकार है।

  • Rojgar panjiyan online registration करने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना से जुड़ी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • रोजगार पंजीयन योजना में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें http://mprojgar.gov.in/
  • रोजगार पंजीयन वेबसाइट खुलने के बाद आपको होम पेज पर दाहिनी ओर ‘click here to Register‘ पर क्लिक करना होगा।
  • अगले पेज पर आपको रोजगार पंजीयन के लिए ऑनलाइन फॉर्म Rojgar panjiyan online registration form मिलेगा।
  • आपको ध्यानपूर्वक फॉर्म को भरना होगा साथ ही username और पासवर्ड भी दर्ज बनाना होगा।
  • Mp rojgar panjiyan online registration कराने के बाद आपका यूजरनेम और पासवर्ड बन चुका है।
  • यूजरनेम प्राप्त करने के बाद आपको अगले पेज पर 1 और फॉर्म को भरना होगा।
  • आपको अपनी शैक्षणिक योग्यता, स्किल एवं कार्य अनुभव दर्ज कराना होगा।
  • सारी जानकारी सही सही दर्ज कराने के बाद आप mp rojgar panjiyan registration पूरा करें।
  • रजिस्ट्रेशन पूरा होने पर आपको print registration card का विकल्प दिखेगा।
  • अपना रजिस्ट्रेशन पेपर प्रिंट कर लें।
  • याद रहे की रोजगार पंजीयन रजिस्ट्रेशन करने की तारीख से ले कर अगले 3 साल तक के लिए ही वैध है।

What is the eligibility criteria to register for mp rojgar panjiyan yojna?

रोजगार पंजीयन में रजिस्टर करने के लिए आवश्यक योग्यता ?

  • आवेदक की न्यूनतम आयु 15 वर्ष होना चाहिए।
  • आवेदक की शैक्षणिक योग्यता कम से कम मैट्रिक पास होना अनिवार्य है।
  • आवेदक का भारत का नागरिक एवं मध्यप्रदेश राज्य का मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  • अगर आप भी ऊपर बताए गए योग्यता के अनुसार योग्य हैं तो जल्दी से अपना रजिस्ट्रेशन mp rojgar panjiyan में करें।

चलिए अब हम आपको रोजगार पंजीयन से होने वाले लाभ के बारे में बताते हैं।

  • इस योजना का सबसे बड़ा लाभ बेरोजगार युवाओं को होने वाला है, युवाओं को नौकरी की तलाश या Rojgar Samachar के लिए इधर उधर नहीं भटकना होगा। उन्हें एक ही वेबसाइट पर सभी उपलब्ध नौकरी के बारे में जानकारी मिलती रहेगी।
  • नौकरी की जानकारी मिलते ही कोई भी युवा अपने योग्यता के अनुसार नौकरी का चयन कर के सीधे नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • समय समय पर नौकरी के लिए रोजगार समाचार मिलते रहने से ज़्यादा से ज़्यादा युवा नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।
  • रोजगार पंजीयन योजना से नौकरी देने वाली संस्था एवं कंपनी को भी लाभ मिलने वाला है।
  • कंपनियां भी रोजगार पंजीयन में कंपनी की ओर से भर्ती के लिए अकाउंट खोल सकते है एवं आवश्यकता अनुसार योग्य एवं कुशल युवाओं का चयन कर सकते हैं।

रोजगार पंजीयन योजना युवाओं के लिए अत्यंत ही उपयोगी योजना है। इस योजना से बेरोजगारी के खत्म होने में मदद मिलेगी एवं कुशल युवाओं को काम की तलाश में भटकना नहीं पड़ेगा। कंपनियां भी आसानी से योग्य युवाओं का चयन कर सकती हैं। रोजगार पंजीयन योजना एक अत्यंत ही सरल योजना है जिसका लाभ कोई भी व्यक्ति घर बैठे ही प्राप्त कर सकता है।

ये थी रोजगार पंजीयन योजना से जुड़ी तमाम जानकारी। उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी पसंद आई होगी।

Continue Reading

How to Apply

SSPY Viklang Pension Yojna UP | विकलांग पेंशन योजना 2018 आवेदन की पूरी जानकारी!

Published

on

भारत सरकार ने विकलांगों के लिए जिन्हें भारत के प्रधानमंत्री दिव्यांग कहते हैं उनके लिए अनेकानेक योजनायें इस समय बना रही है, भारत में विकलांगों के कष्टों का निवारण करने के लिए भारत सरकार निरंतर योजनाबद्ध तरीके से कार्यरत है, इस क्रम में भारत के विभिन्न राज्यों में दिव्यांग बच्चों और सभी वर्ग के लोगों के लिए कई प्रकार के कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं जिससे उनकी स्थिति में सुधार हो और वे पेंशन संबंधी लाभ प्राप्त कर सकें! इसी क्रम में राज्यों के द्वारा भी विकलांग लोगों को पेंशन का पूर्ण लाभ देने के उद्देश्य से राज्य सरकारें भी काम कर रही हैं, जिससे विकलांगों के जीवन में सुधार किया जा सके और उन्हें सक्षम बनाया जा सके, इसी क्रम को आगे बढाते हुए इस दिशा में देश के सबसे बड़े प्रदेश उत्तर प्रदेश में विकलांगों के लिए पेंशन handicapped pension योजना शुरू की गयी है!

उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा उत्तरप्रदेश के विकलांग लोगों के लिए एक राहतकारी योजना का शुभारम्भ किया है, यह योजना विकलांगों को पेंशन के लाभार्थ शुरू की गयी है! पहले पेंशन योजना के तहत दी जाने वाली राशि ५०० रुपये थी, जिसे बढाकर उत्तरप्रदेश सरकार up gov ने १००० रुपये कर दिया है! वे लोग जो ४० प्रतिशत तक विकलांग हैं वे ही इस handicapped pension योजना का लाभ ले पायेंगे! वंचित और पीड़ित विकलांग लोगों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से यह योजना शुरू की गयी है! इसका सीधा उद्देश्य विकलांगों को मिलने वाली पेंशन में बढ़ोत्तरी करना है!

इसके पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने विकलांग पेंशन योजना 2016 में घोषणा की थी, राज्य सरकार ने एकीकृत पेंशन पोर्टल integrated pension portal sspy-up.gov.in के माध्यम से विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन पंजीकरण शुरू कर दिया है। इस योजना Viklang Pension Yojana uttar pradesh के तहत आवेदक जो शारीरिक रूप से विकलांग हैं, उसे सरकार द्वारा पेंशन के रूप में वित्तीय सहायता मिलेगी. 

विकलांग योजना handicapped pension के तहत शारीरिक रूप से अक्षम लोगों के लिए सरकार 500/-रूपये प्रतिमाह प्रदान करेगी। विकलांग पेंशन योजना यूपी ऑनलाइन आवेदन पत्र आधिकारिक वेबसाइट पर दिए गए हैं!

विकलांग पेंशन योजना handicapped pension के लिए आवेदन करने का तरीका :-

यदि आप विकलांग पेंशन योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने गांव में अपने ग्राम पंचायत के सरपंच से जाकर मिले या फिर आप शहर में रहते हैं तो आप अपने जिला अधिकारी के पास जाकर इस योजना के बारे में बताएं। इस योजना का आवेदन पत्र और पूरी जानकारी अधिकारी की वेबसाइट ssyp-up.gov.in पर आपको मिल जाएगी। उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना में ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी जानकारी आप नीचे देख सकते हैं।

विकलांग पेंशन योजना (handicapped pension) की पात्रता क्या है और कौन आवेदन कर सकता है :-

  • विकलांग को उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • विकलांग आवेदक की आयु 18 साल से 28 साल या उससे ज्यादा होनी चाहिए।
  • आवेदक को 40% विकलांग होना चाहिए, इसका मतलब है कि उनके शरीर में 40% से कम शारीरिक विकलांगता नहीं होना चाहिए।
  • अपंग आवेदक की पारिवारिक आय 1000 रुपये प्रतिमाह से अधिक नहीं होनी चाहिए!
  • ऐसे व्यक्ति जो पुराने पेंशन, विधवा पेंशन या कोई अन्य पेंशन जैसी कोई पूर्व पेंशन प्राप्त कर रहे हैं, वे इस पेंशन के लिए पात्र नहीं होंगे।
  • यदि विकलांग व्यक्ति (handicapped person) तीन पहिया या चार पहियाया किसी भी वाहन का मालिक है इस पेंशन के लिए योग्य नहीं है।
  • विकलांग लोगों को जो किसी भी सरकारी क्षेत्र में काम कर रहे हैं, इस पेंशन योजना के लाभ लेने के लिए पात्र नहीं हैं।

विकलांग पेंशन योजना के लिए आवेदन कैसे करे 

ग्रामीण क्षेत्रों में आवेदक ग्राम सभा और शहरी क्षेत्रों में आवेदक जिला विकलांग कल्याण अधिकारी को आवेदन कर सकता है।

सभी योग्य आवेदक आधिकारिक वेबसाइट http://sspy-up.gov.in के माध्यम से भी अपने आवेदन पत्र भर सकते हैं।

ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी जानकारी यहाँ दी गयी है नीचे दिए गए निर्देशों का ठीक से पालन करे और आवेदन पत्र में सही जानकारी भरें-

विकलंग पेंशन योजना यूपी ऑनलाइन पंजीकरण

  • STEP 1 – उम्मीदवारों को आधिकारिक वेबसाइट sspy-up.gov.in पर जाना होगा।
    UP Handicapped Pension

    UP Handicapped Pension

  • STEP 2 – उम्मीदवारों को होमपेज के “हैंडीकैप पेंशन” लिंक पर क्लिक करना होगा
    UP Handicapped Pension

    UP Handicapped Pension

  • STEP 3 – अब उम्मीदवार “ऑनलाइन आवेदन करें” लिंक पर क्लिक करें।
    UP Handicapped Pension

    UP Handicapped Pension

  • STEP 4 – उम्मीदवार “नया फॉर्म” लिंक पर क्लिक करें।
    UP Handicapped Pension

    UP Handicapped Pension

  • STEP 5 – विकलांग पेंशन योजना (UP Viklang Pension Yojana)यूपी ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म खुलेगा
    UP Handicapped Pension

    UP Handicapped Pension

  • STEP 6 – आवेदन पत्र में सभी आवश्यक जानकारी भरें।
  • STEP 7 – अब “Save” बटन पर क्लिक करें।

आवेदन पत्र की ऑनलाइन स्थिति की जांच कैसे करें?

सभी आवेदक जो उत्तर प्रदेश विकलांग जन पेंशन योजना के लिए पंजीकृत है नीचे दिए गए सरल चरणों का पालन करते हुए अपने आवेदन की स्थिति की जांच कर सकते हैं –

  • सबसे पहले, आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं ।
  • उसके बाद, स्थिति विकल्प (आवेदन की स्थिति) पर क्लिक करें ।
  • एक नया टैब स्क्रीन पर दिखाई देगा,
  • उसके बाद, अपने उपयोगकर्ता आईडी और पासवर्ड विवरण दर्ज करें और प्रस्तुत मारा
  • आपकी अनुप्रयोग स्थिति आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगी.

उत्तर प्रदेश विकलांग जन पेंशन योजना के तहत यूपी सरकार राज्य के शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को वित्तीय लाभ प्रदान करेगी जो काम करके अपना जीवनयापन अर्जित करने में असमर्थ हैं । यह विकलांग लोगों को पेंशन प्रदान करने के लिए अपनी आजीविका कमाने और उनके परिवार के सदस्यों या रिश्तेदारों के आधार पर बिना स्वतंत्र रहना होगा।

उपरोक्त जानकारी उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही विकलांग pension योजना (handicapped pension) के संबंध में है, इसकी अतिरिक्त जानकारी और ऑनलाइन आवेदन देने के लिए निम्न दिए हुए लिंक पर क्लिक करें-

http://sspy-up.gov.in/

http://sspy-up.gov.in/IndexHANDICAP.aspx

Continue Reading
Advertisement

Trending