Connect with us

Govt Policies

{UP Ration Card 2018 }उत्तर प्रदेश में राशन कार्ड 2018 के लिए नयी सूची जारी! अब ऑनलाइन खोजें बीपीएल, एपीएल राशन कार्ड!

Published

on

क्या है राशन कार्ड (ration card) ?

भारत के गरीब लोगों के लिए राशन कार्ड महत्वपूर्ण दस्तावेज है । राशन कार्ड के माध्यम से भारत के गरीब नागरिक सरकारी योजना का लाभ ले सकते हैं। यदि किसी नागरिक के पास राशन कार्ड है तो वह रियायती दर पर राशन की आस-पास की दुकानों के माध्यम से राशन खरीद सकता है।

राशन कार्ड( rashan card) या (ration card) भारत सरकार द्वारा जारी किए जाने वाले भोजन, ईंधन, या अन्य वस्तुओं के राशन के लिए धारक को दिया जाने वाला एक आधिकारिक दस्तावेज हैं । यह मुख्य रूप से तब इस्तेमाल किया जाता है जब सब्सिडी प्राप्त खाद्य पदार्थों (गेहूं, चावल, चीनी) और मिट्टी का तेल खरीदा जाता है । यह कार्ड द्वितीय विश्व युद्ध के बाद से इस्तेमाल किया जा रहा है और इसका उपयोग 21 वीं सदी में भी जारी है ।

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत, भारत में सभी राज्य सरकारों को उन परिवारों की पहचान करनी है जो सार्वजनिक वितरण प्रणाली से रियायती खाद्य अनाज क्रय करने के पात्र हैं और उन्हें राशन कार्ड प्रदान करते हैं.

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियमित करने से पहले, तीन प्रकार के rashan card थे!

गरीबी रेखा से ऊपर (एपीएल) राशन कार्ड जो गरीबी रेखा से ऊपर रहने वाले परिवारों को जारी किए गए थे (जैसा कि योजना आयोग द्वारा अनुमानित था)। इन परिवारों को १५ किलोग्राम खाद्यान अनाज (उपलब्धता के आधार पर) प्राप्त हुआ.

गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) rashan card जो गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों को जारी किए गए थे । इन परिवारों को 25-35 किलोग्राम खाद्यान  अनाज मिला ।

गरीब से गरीब परिवार को अंत्योदय राशन कार्ड जारी किए गए थे, इन परिवारों को ३५ किलोग्राम खाद्यान्न अनाज मिला ।

राशन कार्ड (rashan card) के उपयोग!

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत २ प्रकार के राशन कार्ड भारत में उपलब्ध कराये जा रहे हैं, निम्न कार्ड एवं उनके उपयोग इस प्रकार हैं-
प्राथमिकता वाले राशन कार्ड
-प्राथमिकता के लिए राशन कार्ड उन परिवारों को जारी किए जाते हैं जो अपने राज्य सरकार द्वारा निर्धारित पात्रता मानदंड पूरा करते हैं । प्रत्येक प्राथमिकता वाले घर में प्रति सदस्य 5 किलोग्राम खाद्यान्न अनाज का हकदार होता है ।

अंत्योदय राशन कार्ड गरीब से गरीब व्यक्ति को प्रदान किये गए हैं! प्रत्येक अन्त्योदय गृहस्थी को ३५ किलोग्राम खाद्यान्न अनाज का हकदार है ।

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियमित करने से पहले, तीन प्रकार के rashan card थे! गरीबी रेखा से ऊपर (एपीएल) राशन कार्ड जो गरीबी रेखा से ऊपर रहने वाले परिवारों को जारी किए गए थे (जैसा कि योजना आयोग द्वारा अनुमानित था)। इन परिवारों को १५ किलोग्राम खाद्यान अनाज (उपलब्धता के आधार पर) प्राप्त हुआ.

उत्तर प्रदेश राशन कार्ड २०१८ (up ration card 2018)

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने जिलेवार राशन कार्ड सूची डाउनलोड के लिए जारी कर दी है, जिन अभ्यर्थियों ने नए राशन कार्ड के लिए आवेदन किया है वे सब अब अपने नाम nfca (राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम) द्वारा उपलब्ध कराई गयी rashan card 2018 सूची में चेक कर सकते हैं! जिन अभ्यर्थियों का राशन कार्ड सूची २०१८ में पंजीकरण नहीं है वे fcs.up.nic.in, Aapurti पोर्टल के माध्यम से नए राशन कार्ड (ration card 2018) के लिए आवेदन कर सकते हैं!

जिले और टाउन के अनुसार उत्तरप्रदेश UP Ration Card 2018 की नयी सूची

अब आप आसानी से rashan card की आधिकारिक सूची जिले और शहर के अनुसार देख सकते हैं! सभी आवश्यक चरण नीचे दिए जा रहे हैं-

  • सबसे पहले खाद्य विभाग की वेबसाइट http://fcs.up.nic.in पर जाए
  • फिर एन ऍफ़ एस ए के अंतर्गत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम की पात्रता सूची पर क्लिक करें!
    up rashan card

    up rashan card

  • इसके अंतर्गत आपको उत्तरप्रदेश राज्य के सभी जिले की ( up ration card) की सूची शो होगी
    up rashan card

    up rashan card

  • उत्तर प्रदेश राशन कार्ड (Up Ration card list) लिस्ट के लिए आपको अपने जिले पर क्लिक करना होगा!
  • जिले पर क्लिक करने के बाद एक और पेज खुल जाएगा, इस पृष्ठ में आप अपने जिले के कस्बों तहसीलों आदि की लिस्ट देख सकते हैं!

यूपी राशन कार्ड 2018 (ONLINE RATION CARD) की लिस्ट में नाम खोजने के चरण-

जिन सभी अभ्यर्थियों ने rashan card 2018 के लिए आवेदन किया है वे सूची में अपना नाम खोज सकते हैं! सूची में नाम की जांच करने के लिए उम्मीदवारों को इन अलग अलग चरणों का पालन करना होगा! सबसे पहले पेज के लिंक पर जाएँ और आपूर्ति की आधिकारिक वेबसाइट पर click करें- fcs.up.nic.in

  • वेबसाइट के होम पेज पर, “NFSA की पात्रता सूची” पर क्लिक करें!
  • यूपी राशन कार्ड (UP ration card) की सूची का सीधा लिंक २०१८ इस पृष्ठ के महत्वपूर्ण लिंक अनुभाग में भी उपलब्ध है।
  • यूपी राशन कार्ड सूची 2018 पर क्लिक करें, संपूर्ण जनपद वार राशन कार्ड सूची आप यहां देखेंगे ।
  • परीक्षार्थी अपने अपने जिले को खोजते हैं, यहां अपने शहर, राशन कार्ड का नंबर, और दुकानदार का नाम दिखेगा ।
  • अब आप राशन कार्ड में अपना नाम सफलतापूर्वक चेक कर सकते हैं ।
  • उम्मीदवार भविष्य में संदर्भ के लिए २०१८ की राशन कार्ड सूची का प्रिंटआउट ले सकते हैं.

नए राशन कार्ड के लिए दस्तावेज सूची २०१८:

यूपी राशन कार्ड २०१८ (UP RATION CARD 2018 ) KA आवेदन करने के लिए नीचे दिए गए दस्तावेजों की सूची:

1-आधार कार्ड

2-पैन कार्ड

3-बैंक पासबुक

4-हाल ही में फोटोग्राफ (पासपोर्ट साइज)

5-पिछले बिजली के बिल

6-जाति प्रमाण पत्र

7-गैस कनेक्शन

8-आय प्रमाण पत्र

जैसा कि पहले कहा गया था कि नए RASHAN CARD के लिए बीपीएल और एपीएल श्रेणी के सभी अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं । अगर उन नागरिकों ने राशन कार्ड के लिए आवेदन किया है जो पहले से ही नए राशन कार्ड की सूची में हैं उनके नाम की सूची यूपी के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध कराई गई है । यदि किसी प्रत्याशी के पास राशन कार्ड है तो वह विभिन्न राशन की दुकानों पर वितरकों के माध्यम से राशन ले सकता है ।

ऑनलाइन राशन कार्ड (online ration card) प्राप्त करने के लिए अलग अलग प्रकार के निर्देश ऊपर दिए गए हैं,

इसके अतिरिक्त और जानकारी के लिए और online ration card प्राप्त करने लिए इस वेबसाइट  पर जाएँ!

http://fcs.up.nic.in/

नमस्कार दोस्तों, मैं Pandit Shivam, HREX का Author हूँ. मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे I

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Govt Policies

कैसे करे Adhaar Card Update – EAadhar Correction Online, Name ,Mobile No, Address.

Published

on

हम भारतीय हैं, इसका बात का सबूत होता है आपका पहचान पत्र। भारत में कई तरह के पहचान पत्र हैं, जैसे वोटर कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट और ड्राइविंग लाइसेंस आदि, लेकिन इन पहचान पत्रों में कोई न कोई कमी है। इसलिए भारत सरकार ने वर्ष 2009 में दुनिया का सबसे बड़ा बायोमीट्रिक आईडी बनाया, जिसे हम लोग आधार कार्ड बोलते हैं। इसकी जिम्मेदारी Unique Identification Authority of India(UIDAI) के पास है, जिनका काम Aadhar numbers और Aadhar identification cards को संभालना है। आज हम आपको आधार कार्ड से जुड़ी सारी महत्वपूर्ण जानकारी बताएँगे, साथ में ये भी बताएँगे की aadhar card correction आधार कार्ड में सुधार adhaar update कैसे करते हैं।

क्या होता है आधार कार्ड?

आधार कार्ड एक बायोमीट्रिक पहचान पत्र है, जिसमें आपके फिंगरप्रिंट, रेटिना, घर का एड्रेस, फ़ोन नंबर आदि की जानकारी होती है। इस कार्ड में 12 नंबर का एक यूनिक नंबर होता, जो आपका आधार नंबर कहलाता है। ये कार्ड सभी उम्र के लोगों के लिए बनवाना अनिवार्य है।

ऑनलाइन आधार कार्ड में अपडेट कैसे करें (Update Aadhar Card Online/Aadhar Card Correction)

 जिन्होंने भी आधार कार्ड बनवा लिया अच्छी बात है और जिनक भी आधार कार्ड अभी तक नहीं बना है वो जल्दी से बनवा लें। अब जिनका आधार कार्ड बना हुआ है और उसमें कुछ गलतियाँ हैं तो उसे ऑनलाइन (aadhar update online) के माध्यम से अपने आधार कार्ड को अपडेट (aadhar card correction online) किया जा सकता है। सबसे जरूरी बात अगर अपने आधार कार्ड में ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से सुधार करना चाहते हैं। तो आपका मोबाइल नंबर UIDAI में पंजीकृत होना चाहिए। यदि आपका मोबाइल नंबर पंजीकृत नहीं है तो आप ऑनलाइन अपडेट नहीं कर सकते। इसके आलावा आप ऑनलाइन के माध्यम से आधार कार्ड में अपना फोन नंबर भी अपडेट नहीं कर सकते। अगर आप अपना फोन नंबर अपडेट (Update Mobile Number In Aadhar Card) करना चाहते हैं तो आपको आधार कार्ड केंद्र जाना होगा क्योंकि आपको बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन (biometric authentication) की जरूरत होगी, बिना इसके फ़ोन नंबर नहीं बदल सकते।

ऑनलाइन आधार कार्ड अपडेट (Aadhar Card Update Online/Online Aadhar Card Correction) करें के लिए इन चरणों का पालन करें:-

सबसे पहले आपको आधार कार्ड की सरकारी वेबसाइट https://www.uidai.gov.in/ को ओपन करना होगा।

इसके बाद आपके सामने एक पेज आएगा, जिसको पढ़ने के बाद नीचे एक बटन “Proceed” में क्लिक करना है।

इसके बाद आपके सामने एक लॉग-इन पेज आएगा, जिसमें आपको अपना आधार नंबर और सिक्यूरिटी कोड डालना है।

UIDAI

UIDAI

इसके बाद “Send OTP” में क्लिक करना है। आपके रजिस्टर फ़ोन नंबर पर OTP आएगा। OTP भरने के बाद आप लॉग इन हो जाएंगे।

अब आपके सामने ऐसा पेज ओपन हो जायेगा, जहाँ आपको अपना आप्शन चुनना है और “Submit” पर क्लिक करना है।

इसके बाद अब आपको एक Contact details का फॉर्म खुलेगा उसमे आपको सारी डिटेल्स भरनी होगी। यहाँ ध्यान देने वाली बात ये है कि आपकोसिर्फ एक ही साइड डिटेल्स भरना है।

सारी जानकारी सही-सही भरने के बाद बाद आपको “Submit Update Request” बटन पर क्लिक करना है।

इसके बाद आपके सामने एड्रेस प्रूफ के लिए डॉक्यूमेंट अपलोड करने का पेज आएगा। यहाँ आपको करंट एड्रेस प्रूफ के डॉक्यूमेंट की स्कैन कॉपी को अपलोड करना होगा और डॉक्यूमेंट सेल्फ़ अटेस्टेड (Self Attested) होना चाहिए। जैसे ही आप डॉक्यूमेंट उपलोड करेंगे, आपके सामने “BPO Service Provider” का एक पेज ओपन होगा, यहाँ आपको यहाँ आपको सबमिट पर क्लिक करना है। इसके बाद  आपको एक पुष्टिकरण संदेश और एक यूआरएन नंबर मिलेगा। साथ ही कुछ दिनों के अन्दर आपको आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर पर मेसेज आ जायेगा की आधार कार्ड (adhaar update) में एड्रेस चेंज हुआ या नहीं या फिर आप चाहे तो वापस इसी वेबसाइट में जाकर Check Status – Update done Online पर क्लिक करके Update रिक्वेस्ट नंबर यूआरएन डालके अपना स्टेटस चेक कर सकते हैं।

 इस तरह से आप आसानी से ऑनलाइन आधार कार्ड (Eeadhar) अपडेट (Aadhar Card update) हो जायेगा।

पोस्ट के माध्यम से आधार कार्ड (Adhar Update) अपडेट कैसे करें?

अगर आप ऑनलाइन के माध्यम से अपना आधार कार्ड अपडेट नहीं करना चाहते तो कोई बात नहीं आप पोस्ट के माध्यम से भी अपना आधार कार्ड (adhar card correction) अपडेट कर सकते हैं। पोस्ट के माध्यम से आप आधार कार्ड में कई चीजें अपडेट कर सकते हैं,(Mobile Number Correction In Aadhar Card) जैसे अपना नाम, पिता का नाम / पत्नी का नाम / पति का नाम, आधार कार्ड में अपना पता बदल सकते हैं, रजिस्टर्ड ई-मेल आईडी, जन्म तिथि आदि। सबसे ज़रूरी बात यदि आप आधार कार्ड पोस्ट के माध्यम से अपडेट करते हैं तो आपको पंजीकृत मोबाइल नंबर की आवश्यकता नहीं है।

पोस्ट के माध्यम से आधार कार्ड अपडेट करने के लिए आपको UIDAI की वेबसाइट से एक फॉर्म डाउनलोड करना होगा।

https://uidai.gov.in/images/UpdateRequestFormV2.pdf

फॉर्म भरने से पहले इसके सभी निर्देश ध्यान से पढ़ें और फिर इसे भरें। फिर इसे फॉर्म के नीचे लिखे पते पर पोस्ट कर दें। कुछ दिनों के बाद पोस्ट के माध्यम से आपका अपडेट आधार कार्ड (aadhar update) आपके पास आ जायेगा।

निकटतम आधार कार्ड नामांकन केंद्र में अपडेट और परिवर्तन कैसे करें?

आधार कार्ड अपडेट (update mobile number in adhaar) करने के लिए आखरी विकल्प है आधार कार्ड नामांकन केंद्र। यहाँ से आप अपने आधार कार्ड में सभी चीजे अपडेट कर सकते हैं। इसके लिए आपको निकटतम नामांकन केंद्र जाना होगा।

निकटतम आधार नामांकन केंद्र खोजने का तरीका

UIDAI की वेबसाइट https://appointments.uidai.gov.in/easearch.aspx से आप अपने निकटतम आधार नामांकन केंद्र खोज सकते हैं।

जैसे ही आप इस वेबसाइट को ओपन करेंगे आपके सामने एक पेज ओपन होगा।

यहाँ आप अपने राज्य, पिन कोड और सीधा अपने शहर के नाम से सर्च कर सकते हैं।

जब आपको आपके निकटतम आधार नामांकन केंद्र मिल जाये तो आप वहां जा कर अपना आधार कार्ड (update mobile number in adhaar) अपडेट करवा सकते हैं। ध्यान रखें इसके लिए वहां आपसे सिर्फ 30 रुपये ही लिए जाएंगे। इससे ज्यादा पैसे न दें।

आधार कार्ड (Adhaar card update) से जुड़ी हेल्पलाइन

अगर आपको अपने आधार कार्ड से जुड़ी कोई भी जानकारी चाहिए हो तो आप टोल फ्री 1947 नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। इसके आलावा आप [email protected] मेल भी लिख सकते हैं।

आधार कार्ड (aadhar card update online) से जुड़ी ध्यान देने वाली जरूरी बातें

आधार के जरिए कर तरह के फर्जीवाड़े आमने आते हैं, इसलिए अपना आधार कार्ड किसी अनजान व्यक्ति को न दें।

आप ये भी पता कर सकते हैं कि आपका आधार कार्ड कहाँ कहाँ इस्तेमाल हो रहा है।

इसके लिए आपको UIDAI की वेबसाइट ओपन करना होगा।

यहाँ आपको “Aadhar Authentication History” पर क्लिक करना होगा और फिर से अपना आधार नंबर और सिक्यूरिटी कोड भरना होगा। इसके बाद आपके सामने जानकारी आ जाएगी।

Continue Reading

Govt Policies

{PMAY List} Pradhan Mantri Awas Yojana list 2018- प्रधानमंत्री आवास योजना

Published

on

Pradhan Mantri Awas Yojana

केंद्र सरकार ने वर्ष 2015 में देश के सभी गरीबों को घर उपलब्ध कराने के उद्देश से प्रधानमंत्री आवास योजना (pradhan mantri awas yojana 2018) की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत वर्ष 2022 तक हर गरीब को एक घर मुहैया कराने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए भारत सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना (pradhanmantri awas yojna) को दो भागों में बांटा हैं:

  • प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना

तीन श्रेणियों (pmay list) EWS, LIG और MIG में विभाजित प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना (pradhan mantri awas yojana rajasthan) के अंतर्गत आने वाले लोगों को बड़ा फायदा मिलेगा. इस योजना के तहत पहला घर बनाने या खरीदने के लिए होम लोन पर ब्याज सब्सिडी मिलेगी। वही प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत भारत सरकार गाँवों में रहने वाले BPL परिवारों को जिनके पास पक्के घर नहीं हैं, उनको पक्का करने का काम करेगी। ऐसे गरीब परिवारों के लिए यह योजना वरदान साबित होगी।

केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के लिए 2 लाख करोड़ रुपये की सब्सिडी पास की गयी है। वित्त-वर्ष 2017-18 में सरकार ने 32,10,316 मकान बनवाने का लक्ष्य निर्धारित किया था जिनमें अब तक सिर्फ 11,76,286 मकानों  का निर्माण कार्य ही संपन्न हुआ है। वहीं 2022 तक सरकार का लक्ष्य कुल 94,69,918 मकान बनवाने का है, जिसमें अभी तक केवल 36,34,865 मकान ही बन सके हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य

आज के समय में भारत देश ऐसे लाखों परिवार मौजूद हैं जिनके पास खुद के घर तक नहीं हैं. वो ऐसे घरों में रहने के लिए मजबूर हैं जिन्हें पक्के मकानों की श्रेणी में नहीं रखा जा सकता है, जैसे टेंट, झोपड़ी आदि। इसके चलते ऐसे बेसहारा परिवारों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। साथ ही उनके बच्चों की परवरिश में भी इसका बड़ा असर पड़ता है।

जब कोई प्राकृतिक आपदा आती है तो झुग्गी-झोपड़ियों और टेंटों में रहने वाले परिवारों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ जाता है। आज के इस महंगाई के दौर में किसी भी आम भारतीय परिवार के लिए खुद का मकान होना एक बड़ा सपना जैसा हो गया है जिसे पूरा करने के लिए वह अपना जीवन खपा देता है। ऐसे परिवारों के लिए एक बेहतर आवास की सुविधा प्रदान करना ही भारत सरकार की इस योजना (pradhan mantri awas yojana list 2018) का मुख्य उद्देश्य है। आइए प्रधानमंत्री आवास योजना (awas yojana) को विस्तार से जानते हैं।

किनको मिलता है योजना का लाभ?

आपको जानकारी के लिए बता दें कि इस योजना (pradhan mantri awas yojana list) का लाभ EWS (Economic Weaker Section), LIG (Law Income Group) तथा MIG (Middle Income Group) की श्रेणियों में आने वाले लोगों को ही मिलता है। अब ये श्रेणी होती क्या है? EWS की श्रेणी में ऐसे व्यक्तियों को रखा गया है जिनकी सालाना आय 3 लाख रुपए से कम है। LIG श्रेणी में उन लोगों को रखा गया है जिनकी वार्षिक आय 3 लाख से 6 लाख के बीच में है, तथा MIG श्रेणी में उन्हें रखा गया है जिनकी वार्षिक आय 6 लाख से अधिक है। इसके अलावा निम्लिखित शर्ते भी हैं, जिसके आधार पर योजना का लाभ दिया जायेगा: –

  • इस योजना के लिए आवेदक का महिला होना अनिवार्य है, क्योंकि इस योजना को मुख्य रूप से महिलाओं के लिए लागू किया गया है।
  • आवेदक का किसी एक स्थान पर न्यूनतम 3 वर्ष का स्थायी निवासी होना आवश्यक है।
  • इस योजना में आवेदन के लिए आवेदक की उम्र 18 वर्ष से 50 वर्ष के मध्य होनी चाहिए। इसके अलावा उसके परिवार में किसी भी सदस्य की सरकारी नौकरी नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदक के नाम कोई भी पक्का मकान नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाला होना चाहिए अर्थात उसके पास BPL कार्ड होना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ उन गरीब परिवारों को ही मिल सकता है, जिन परिवारों में पति-पत्नी और अविवाहित बच्चे शामिल हैं।

योजना का लाभ लेने के लिए कैसे करें आवेदन?

प्रधानमंत्री आवास योजना (pradhanmantri awas yojna) के लिए आवेदन दो तरीकों से किया जा सकता है –

  1. जन सुविधा केंद्र के माध्यम से
  2. आधिकारिक वेबसाइट www.pmaymis.gov.in के माध्यम से

जन सुविधा केंद्र के माध्यम से आवेदन:-

जो भी इस योजना के लिए योग्य उम्मीदवार हैं वो अपना अपना आधार कार्ड और पासपोर्ट साइज फोटो के साथ अपने नजदीकी जन सुविधा केंद्र (Common Service Center) से सम्पर्क कर सकते हैं, और वहां अपना आवेदन जमा कर सकते हैं। जब आपका आवेदन हो जायेगा, तब आपको जन सुविधा केंद्र द्वारा एक अभिस्वीकृत रसीद दी जायेगी जिस पर आवेदक का फोटो और आवेदन क्रमांक दर्ज़ होगा। एक जरुरी सुचना यहाँ आवेदन करने के लिए आपको मात्र 25 रुपए का शुल्क जमा करना होगा, इससे ज्यादा जमा न करें। गौरतलब है कि देशभर के शहरी इलाकों में लगभग 60,000 जन सुविधा केंद्रों पर आवेदन की यह सुविधा उपलब्ध है।

आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन

भारत देश लगातार डिजिटल होने के लिए बढ़ रहा है, इसमें हमें भी अपना योगदान देना चाहिए। आप प्रधानमन्त्री आवास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट www.pmaymis.gov.in को ओपन करना होगा. और और इसमें दिए हुए Citizen Assessment (नागरिक आंकलन) के विकल्प को चुनना होगा।

PMAY-HFA Urban .png

अगर आवेदक किसी गन्दी बस्ती (स्लम) में रहता है तो उसे For Slum Dwellers पर क्लिक करना होगा। और यदि ऐसा नहीं है तो उसे  Benefit Under Other 3 Components (अन्य 3 घटकों के तहत लाभ) पर क्लिक करना होगा।

इसके बाद उम्मीदवार को अपना आधार नंबर भरकर Check बटन पर क्लिक करना होगा, इसके बाद आपके आधार नंबर को सत्यापित (Verify) किया जायेगा, इसके पश्चात् आपके सामने आवेदन फॉर्म (Application Form) खुलेगा। जिसे अच्छी तरह भरने के बाद save (सुरक्षित) बटन पर क्लिक करना होगा। और इस तरह प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया संपन्न होगी।

सहयता या अधिक जानकारी के लिए संपर्क

इस योजना से जुडी किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप भारत सरकार द्वारा दिए गए टोल फ्री नंबर 1800-11-5050 पर संपर्क कर सकते हैं।

Continue Reading

Govt Policies

MP Rojgar Panjiyan Yojna Online Registration 🇮🇳 ? Check Here For Details

Published

on

मध्य प्रदेश रोजगार पंजीयन ऑनलाइन कैसे करें ?

जैसा कि हम सब जानते है कि भारत एक युवा देश है। हमारे देश की लगभग 60 प्रतिशत आबादी युवा है। भारत के पास विश्व में अग्रणी राष्ट्र बनने के पूरी संभावना है पर इसके लिए आवश्यक है कि देश का कोई भी युवा बेरोजगार ना रहे। देश एवं राज्य की सरकारें रोजगार से  जुड़ी कई सारी योजनाएं ला रही है। इन्हीं में से एक मध्य प्रदेश सरकार की योजना रोजगार पंजीयन ऑनलाइन योजना है।

आज हम आपको इस पोस्ट में mp rojgar yojna के बारे में सारी जानकारी विस्तार से  बताने जा रहे हैं। हम आपको बताएंगे कि मप्र रोजगार योजना में rojgar panjiyan online कैसे करें।

आइए पहले बताते हैं कि क्या है मध्यप्रदेश रोजगार पंजीयन योजना?

What is mp rojgar  panjiyan ?

मध्य प्रदेश रोजगार पंजीयन योजना राज्य सरकार द्वारा लागू किया हुआ एक योजना है जिस योजना से बेरोजगारी को खत्म करने में मदद मिलने की संभावना है। पहले युवाओं को रोजगार पंजीयन करवाने के लिए जिला मुख्यालय स्थित रोजगार पंजीयन कार्यालय जाना होता था जिसमें काफी समय एवं पैसे भी लगता था। युवाओं को पंजीयन करवाने हेतु ऑफिस के चक्कर लगाने पड़ते थे। इन्हीं सब परेशानी को देखते हुए राज्य सरकार ने रोजगार पंजीयन योजना को लागू किया। योजना का लाभ रोजगार प्राप्त करने वाले के साथ साथ रोजगार प्रदान करने वाले संस्था भी प्राप्त कर सकती है। रोजगार पंजीयन योजना का लाभ लेने के लिए युवाओं को Rojgar panjiyan online करना होगा। Mp rojgar panjiyan online registration करवाने के लिए किसी भी ऑफिस का चक्कर लगाना नहीं पड़ेगा। कोई भी व्यक्ति घर बैठे ही रोजगार पंजीयन योजना में Rojgar panjiyan online registration कर सकता है।

MP rojgar panjiyan yojna is the scheme of mp government. Mp government launched this scheme to fight against unemployment. Under this Rojgar panjiyan yojna any unemployed youth can register themselves & get benefit. It’s a best option for youth to find a job at one place. Once you register online on rojgar panjiyan portal and select your qualifications, skill and work experience. You’ll start getting notifications and Rojgar Samachar about suitable job according to your profile. You can choose a job and apply directly from there , you won’t have to go anywhere else.

Here, we are going to inform you how to register online on rojgar panjiyan portal

चलिए अब हम आपको रोजगार पंजीयन में रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया बताते हैं

रोजगार पंजीयन में रजिस्ट्रेशन करने के प्रक्रिया इस प्रकार है।

  • Rojgar panjiyan online registration करने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना से जुड़ी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • रोजगार पंजीयन योजना में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें http://mprojgar.gov.in/
  • रोजगार पंजीयन वेबसाइट खुलने के बाद आपको होम पेज पर दाहिनी ओर ‘click here to Register‘ पर क्लिक करना होगा।
  • अगले पेज पर आपको रोजगार पंजीयन के लिए ऑनलाइन फॉर्म Rojgar panjiyan online registration form मिलेगा।
  • आपको ध्यानपूर्वक फॉर्म को भरना होगा साथ ही username और पासवर्ड भी दर्ज बनाना होगा।
  • Mp rojgar panjiyan online registration कराने के बाद आपका यूजरनेम और पासवर्ड बन चुका है।
  • यूजरनेम प्राप्त करने के बाद आपको अगले पेज पर 1 और फॉर्म को भरना होगा।
  • आपको अपनी शैक्षणिक योग्यता, स्किल एवं कार्य अनुभव दर्ज कराना होगा।
  • सारी जानकारी सही सही दर्ज कराने के बाद आप mp rojgar panjiyan registration पूरा करें।
  • रजिस्ट्रेशन पूरा होने पर आपको print registration card का विकल्प दिखेगा।
  • अपना रजिस्ट्रेशन पेपर प्रिंट कर लें।
  • याद रहे की रोजगार पंजीयन रजिस्ट्रेशन करने की तारीख से ले कर अगले 3 साल तक के लिए ही वैध है।

What is the eligibility criteria to register for mp rojgar panjiyan yojna?

रोजगार पंजीयन में रजिस्टर करने के लिए आवश्यक योग्यता ?

  • आवेदक की न्यूनतम आयु 15 वर्ष होना चाहिए।
  • आवेदक की शैक्षणिक योग्यता कम से कम मैट्रिक पास होना अनिवार्य है।
  • आवेदक का भारत का नागरिक एवं मध्यप्रदेश राज्य का मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  • अगर आप भी ऊपर बताए गए योग्यता के अनुसार योग्य हैं तो जल्दी से अपना रजिस्ट्रेशन mp rojgar panjiyan में करें।

चलिए अब हम आपको रोजगार पंजीयन से होने वाले लाभ के बारे में बताते हैं।

  • इस योजना का सबसे बड़ा लाभ बेरोजगार युवाओं को होने वाला है, युवाओं को नौकरी की तलाश या Rojgar Samachar के लिए इधर उधर नहीं भटकना होगा। उन्हें एक ही वेबसाइट पर सभी उपलब्ध नौकरी के बारे में जानकारी मिलती रहेगी।
  • नौकरी की जानकारी मिलते ही कोई भी युवा अपने योग्यता के अनुसार नौकरी का चयन कर के सीधे नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • समय समय पर नौकरी के लिए रोजगार समाचार मिलते रहने से ज़्यादा से ज़्यादा युवा नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।
  • रोजगार पंजीयन योजना से नौकरी देने वाली संस्था एवं कंपनी को भी लाभ मिलने वाला है।
  • कंपनियां भी रोजगार पंजीयन में कंपनी की ओर से भर्ती के लिए अकाउंट खोल सकते है एवं आवश्यकता अनुसार योग्य एवं कुशल युवाओं का चयन कर सकते हैं।

रोजगार पंजीयन योजना युवाओं के लिए अत्यंत ही उपयोगी योजना है। इस योजना से बेरोजगारी के खत्म होने में मदद मिलेगी एवं कुशल युवाओं को काम की तलाश में भटकना नहीं पड़ेगा। कंपनियां भी आसानी से योग्य युवाओं का चयन कर सकती हैं। रोजगार पंजीयन योजना एक अत्यंत ही सरल योजना है जिसका लाभ कोई भी व्यक्ति घर बैठे ही प्राप्त कर सकता है।

ये थी रोजगार पंजीयन योजना से जुड़ी तमाम जानकारी। उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी पसंद आई होगी।

Continue Reading
Advertisement

Trending